Bharat News Today

नगर में हुआ जैन आर्यिका माता का मंगल प्रवेश जैन अनुयायियों को मिलेगा उनके प्रवचन का 3 दिन तक लाभ

सम्भवनाथ भगवान के जन्म कल्याण के साथ अष्टनिका पर्व हुए समाप्त

जसवंतनगर आर्यिका ज्ञानमती माता एवं आचार्य विद्यासागर महाराज की शिष्या आर्यिका दिव्यमति माता व आर्यिका पुराणमति माता का आज नगर में प्रातः कचौरा की ओर से लुधपुरा जैन मंदिर होते हुए जैन बाजार स्थित श्री पार्श्वनाथ दिगंबर जैन मंदिर में प्रवेश हुआ। तड़के ही उनका बिहार करने जैन युवा पहुंचे। उनका आगमन लेट होने के कारण आज तो उनका प्रवचन का लाभ नहीं मिला परंतु अगले तीन दिनों तक उनके प्रवचन का लाभ सभी जैन अनुयायियों को मिलने की पूरी उम्मीद है नगर में प्रवास के बाद उनका बिहार तीर्थराज सम्मेदशिखर की ओर हो जाएगा।

फाइल फोटो- गंधकुटी बेदी में विराजमान तीर्थंकर सम्भवनाथ भगवान

आज जैन धर्म के तीसरे तीर्थंकर सम्भवनाथ भगवान के जन्म कल्याणक के अवसर पर प्रातः जिन मंदिर में तीर्थंकर भगवान का अभिषेक करते हुए उनका जन्म कल्याण उत्सव मनाया गया। जैन धर्म के प्रमुख पर्वो में से एक आठ दिवसीय अष्टानिका महापर्व के समापन पर भी आज जैन धर्माविलंबियों ने नंदीश्वर दीप की विशेष पूजा करते हुए अष्टानिका पर्व हर्षोल्लास से मनाया।

Leave a Reply

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज

Gold & Silver Price