Bharat News Today

डी एम व एस एस पी की अध्यक्षता में जिला सुरक्षा समिति की प्रथम बैठक हुई सम्पन्न – संबंधितों को दिए गए सड़क सुरक्षा के आवश्यक निर्देश

इटावा /जिला सड़क सुरक्षा समिति की वर्ष 2024 की प्रथम बैठक जिलाधिकारी अवनीश राय एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संजय कुमार वर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आहुति की गई।

बैठक में उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि नेशनल हाईवे के दोनों तरफ ब्लैक स्पॉट अवश्य लगाया जाए एवं जहां से वाहन चढ़ते हैं वहां पर चेतावनी बोर्ड लगाये जाए जिससे वाहन धीमी गति से चल सकें।

उन्होंने nh2 एवं संबंधित अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि रोड सेफ्टी का ग्रुप बनाकर उसकी सूचना तत्काल ग्रुप पर डाली जाए जिससे संबंधित अधिकारी तत्काल मौके पर पहुंच सके एवं घायल व्यक्ति की मदद हो सके तथा ग्रुप पर जगह की लोकेशन भी डाल दी जाए जिससे संबंधित को पहुंचने में आसानी हो।

उन्होंने बैठक में निर्देश दिए की सड़क दुर्घटना में जो भी व्यक्ति एंबुलेंस आदि की व्यवस्था करके व्यक्ति को बचाता है ऐसे व्यक्ति को जिला प्रशासन द्वारा सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को निर्देशित करते हुए कहा कि शहर के सभी चौराहों पर कैमरे अवश्य लगाये जाए जिससे क्राइम की संख्या कम से कम हो। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा बताया गया कि सेंट मैरी के सामने, डीएम आवास के पीछे वाली गली में क्राइम की संभावना अधिक होती है वहां पर कैमरे लगाना अति आवश्यक है ।

उन्होंने कहा कि जनपद की सीमा में जो भी कैमरे लगे हैं व लगाए जा रहे हैं वहां की लॉन्ग लाइट की संख्या nh2 के माध्यम से उपलब्ध करा दी जाए। उन्होंने nh2 को निर्देश दिए की कटफोड़ी से अनंतराम तक जितने कैमरे लगे हुए हैं उनकी संख्या दे दी जाए तथा कैमरे की संख्या बढ़ा दी जाए जिससे दुर्घटनाओं में कमी हो सके। उन्होंने कहा कि 22 ख्वाजा रोड पर अत्यधिक अंधेरा होने पर क्राइम एवं दुर्घटना की समस्या उत्पन्न होती है वहां पर हाईलाइट अवश्य लगाई जाए।

उन्होंने निर्देश दिए कि शहर में जितने भी अवैध कट हैं इनका अभियान चलाकर इन पर रोक लगाई जाए।
उन्होंने अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को निर्देशित करते हुए कहा कि डीएम चौराहे से पुलिस लाइन रोड पर हाईलाइट लगाई जाए।
उन्होंने अपर मुख्य चिकित्साधिकारी को सड़क दुर्घटना पर होने वाली घटनाओं पर तत्काल चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए।
उन्होंने जनपद में घटित हो रही दुर्घटनाओं के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए सभी सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने कर्तव्यों का गम्भीरता पूर्वक निर्वहन करें। उन्होंने कहा कि आम जनमानस को यातायात नियमों के प्रति जागरूक किया करें जिससे कि होने वाली सड़क दुर्घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लगाया जा सके, उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि अनाधिकृत वाहन संचालन के विरूद्ध पूरे जनपद में संयुक्त चैकिंग अभियान चलाया जाये। उन्होंने एन0एच0ए0आई0 को निर्देश दिये कि जनपद में चिन्हित किये गये नवीन दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्रों/ब्लैकस्पॉट्स के दोनों तरफ नियमानुसार निर्धारित दूरी से पहले ब्लैकस्पॉट चेतावनी बोर्ड लगाये जायें एवं समस्त सुरक्षात्मक कार्य भी किये जायें।

उन्होंनेे सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी को अवैध स्कूली वाहनों के विरूद्ध अभियान चलाकर कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
उन्होंने पुलिस विभाग को यातायात नियमों का पालन कराने एवं यातायात नियमों का पालन न करने वालों के विरूद्ध कड़ी़ कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
उक्त के पश्चात जिलाधिकारी महोदय एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा जिला विद्यालय यान परिवहन सुरक्षा समिति की बैठक भी आयोजित की गई जिसमें उन्होंने अधिकतम वाहनों का अनुबंध किए जाने के निर्देश दिए तथा वाहनों के फिटनेस आदि के लिए निर्देशित किया ।उन्होंने कहा कि छोटे वाहन बच्चों को लेकर शहर के अलावा हाईवे पर नहीं जाएंगे इसका एक अभियान चलाया जाए ।उन्होंने विद्यालयों के प्राचार्य को निर्देश दिए की प्राइवेट वाहनों में बच्चों की संख्या कम से कम होनी चाहिए, प्राइवेट छोटे वाहनों में सात बच्चों से ज्यादा नहीं ले जाने चाहिए।


बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी अभिनव रंजन श्रीवास्तव, एसपी सिटी अभय नाथ त्रिपाठी,जिला विद्यालय निरीक्षक मनोज कुमार, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका विनय मणि त्रिपाठी,सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी बृजेश कुमार ,ट्रैफिक इंस्पेक्टर सूबेदार सिंह, nh2 सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज

Gold & Silver Price