Bharat News Today

यूपीयूएमएस में नेत्र विज्ञान विभाग के तत्वाधान में मनाया जाएगा विश्व ग्लूकोमा सप्ताह 10 – 16 मार्च तक होंगे विशेष कार्यक्रमों का आयोजन

इटावा 10 मार्च 2024 नेत्र विज्ञान विभाग की तत्वाधान में विश्व ग्लूकोमा सप्ताह मनाने के लिए सतत चिकित्सा शिक्षा के तहत  ग्लूकोमा प्रबंधन पर चर्चा हुई। विश्व ग्लूकोमा सप्ताह (10 से 16 मार्च) का आयोजन वर्ष में एक बार किया जाता है। यूपीयूएमएस सैंफई के नेत्र विज्ञान विभाग के  प्रो. डॉ रवि रंजन ने कहा कि ग्लूकोमा के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए साप्ताहिक कार्यक्रम की कार्य योजना माननीय कुलपति प्रो डॉ प्रभात कुमार के निर्देशन में तैयार की जा चुकी है । उन्होंने बताया कि 10- 16 मार्च तक विश्वविद्यालय में अलग-अलग कार्यक्रम आयोजित होंगे, जिसके तहत इस ग्लूकोमा सप्ताह का शुभारंभ माननीय प्रति कुलपति प्रोफेसर डॉ रमाकांत यादव की अध्यक्षता में सतत चिकित्सा शिक्षा के तहत ग्लूकोमा प्रबंधन पर आज क्लीनिकल टॉक के आयोजन के साथ हुआ। सीएमई(सतत चिकित्सा शिक्षा) में केजीएमयू एसोसिएट प्रोफेसर डॉ रजत मोहन श्रीवास्तव ने मोतियाबिंद के चिकित्सा प्रबंधन के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी पर चर्चा की और लखनऊ पीजीआई के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. वैभव कुमार जैन ने ग्लूकोमा पर सर्जिकल प्रबंधन के बारे में होने वाले नवाचारों पर अपने विचार प्रस्तुत किया यूपीयूएमएस सैंफई की डॉ रीना शर्मा ने ग्लूकोमा के सर्जिकल प्रबंधन के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां साझा की।
डॉ रंजन ने बताया कि विश्व ग्लूकोमा दिवस पर इस वर्ष की थीम है ग्लूकोमा मुक्त दुनिया के लिए एकजुट होना” उन्होंने कहा कि ग्लूकोमा अंधापन के खिलाफ के लड़ने के लिए दुनिया भर के समुदायों को एक साथ आना होगा और जागरूकता कार्यक्रम व अन्य गतिविधियों के माध्यम से लोगों में  जागरूक करना आवश्यक है और ग्लूकोमा के बारे में विभिन्न कार्यक्रम आज से 16 मार्च तक आयोजित किए जाएंगे जिसमें लोगों को ग्लूकोमा के संदर्भ में लोगों को जागरूक किया जाएगा।
डॉ रवि रंजन ने बताया 13 मार्च को ओपीडी मेंआए लोगों को डॉ रीना शर्मा ग्लूकोमा के संदर्भ में महत्वपूर्ण जानकारी देंकर लोगों को जागरूक करेंगी। 15 मार्च को स्टाफ अवेयरनेस टॉक16 मार्च को ग्लूकोमा वॉक का आयोजन किया जाएगा इसके अतिरिक्त अन्य कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाएगा।
सतत चिकित्सा शिक्षा कार्यक्रम में चिकित्सा अधीक्षक प्रो. डॉ एसपी सिंह डॉ पीके जैन, नेत्र विज्ञान विभाग के सदस्य व मेडिकल कॉलेज के छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

Leave a Reply

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज

Gold & Silver Price