Bharat News Today

अब्बास अंसारी की पैरोल को लेकर अफजाल अंसारी ने दिया बयान कहा अब्बास को पैरोल पर नहीं जमानत पर बाहर लाएंगे

गाजीपुर।जरायम की दुनिया का बेताज बादशाह माफिया मुख्तार अंसारी की गुरुवार को हार्ट अटैक से मौत हो गई। शुक्रवार को पोस्टमार्टम कराकर शव परिवार को सौंप दिया गया।मुख्तार को शनिवार को मोहम्मदाबाद स्थित कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। मुख्तार के जनाजे में हजारों लोगों की भीड़ जुटी।इस दौरान मुख्तार के परिवार के कई लोग मौजूद रहे,लेकिन मुख्तार बड़ा बेटा विधायक अब्बास अंसारी जनाजे में शामिल नहीं हो सका।मऊ सदर से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी से विधायक अब्बास अंसारी को पैरोल नहीं मिल सकी। वहीं अब अब्बास अंसारी को जेल से बाहर निकालने को लेकर मुख्तार के भाई सांसद अफजाल अंसारी ने बयान दिया है।

अफजाल अंसारी ने कहा है कि हम अब्बास अंसारी को पैरोल पर नहीं, बल्कि जमानत पर बाहर लाएंगे।अफजाल ने कहा कि वह कासगंज की जेल में बंद है। उसके ऊपर मऊ में चुनाव के दौरान कई सारे मुकदमे दर्ज किए गए, शूटिंग के मामले को लेकर भी अब्बास पर मुकदमे दर्ज हैं, लखनऊ की जमीन और गाजीपुर की किसी जमीन को लेकर भी अब्बास पर मुकदमा लिखवाया गया है। ज्यादातर मामलों में उसकी जमानत हो गई है।दो मामले ऐसे हैं,जिसमें उसका एप्लीकेशन हाईकोर्ट में पेंडिंग है।

अफजाल अंसारी ने कहा कि पैरोल का यह नियम है कि पुलिस कस्टडी में किसी के परिजन की मौत हो जाती है तो उसके दाह संस्कार या मिट्टी में शामिल होने के लिए दिया जा सकता है। अफजाल ने कहा कि अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए दरख्वास्त दी गई,लेकिन अफसोस ये रहा कि जिस कोर्ट में दरख्वास्त दी गई, उस कोर्ट में उस दिन सुनवाई ही नहीं हुई और इसलिए जब सुनवाई नहीं हुई तो फिर अब्बास जेल से निकल भी नहीं सके। अब हमारा प्रयास है कि एक से दो सप्ताह के अंदर अब्बास को पैरोल पर नहीं बल्कि रेगुलर जमानत पर बाहर लाने का प्रयास करेंगे।

Leave a Reply

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज

Gold & Silver Price