Bharat News Today

रामलला के दरबार में प्रत्याशियों की बढ़ी हाजिरी प्रार्थना कर रहे प्रत्याशी राम जी करो बेड़ा पार

अयोध्या।धर्म के साथ-साथ रामनगरी अयोध्या हमेशा राजनीति का केंद्र रही।रामनगरी अयोध्या एक बार फिर से उसी भूमिका में है।समय बदला,हालात बदले,सुप्रीम कोर्ट का फैसले आने के बाद रामनगरी का भूगोल बदल गया,लेकिन अयोध्या आज भी राजनीति के केंद्र में हैं।हिंदुत्व के समुद्र में डुबकी लगाकर राजनीतिक वैतरणी पार करने की चाह रखने वाले प्रत्याशी रामनगरी अयोध्या आकर विजय हासिल करने के लिए रामलला और हनुमान जी के दरबार में माथा टेक रहे हैं।

लोकसभा चुनाव के चुनाव में प्रत्याशियों में रामलला के प्रति आस्था फिर जगी है।चौथे चरण का चुनाव 13 मई और पांचवें चरण का चुनाव 20 मई को होना है।इससे पहले प्रत्याशी रामलला के दरबार में अपनी श्रद्धा अर्पित कर रहे हैं।अमेठी से भाजपा प्रत्याशी केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी नामांकन से पहले रामलला और हनुमान जी के दर्शन किए थे। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने बीते माह 23 मार्च को परिवार के साथ रामलला का दर्शन किया था।रामलला का दर्शन के बाद 28 मार्च को जीतनराम मांझी ने नामांकन किया था।

दिल्ली के चांदनी चौक से भाजपा प्रत्याशी प्रवीण खंडेलवाल ने 29 मार्च को रामलला और हनुमान जी का दर्शन किया और जीत की प्रार्थना की। बीते मंगलवार को आजमगढ़ से भाजपा प्रत्याशी दिनेश लाल यादव निरहुआ ने भी नामांकन से पहले रामलला का आशीर्वाद लिया था।कैसरगंज से करण भूषण सिंह को गुरुवार को भाजपा प्रत्याशी घोषित किया।गुरुवार करण भूषण ने अपने समर्थकों के साथ अयोध्या पहुंचकर हनुमान जी और रामलला का दर्शन किया और संतों से जीत का आशीर्वाद लिया।

फैजाबाद से भाजपा सांसद लल्लू सिंह ने भी नामांकन के एक दिन पहले रामलला और हनुमान जी की पूजा-अर्चना कर रामनगरी के मठ-मंदिरों में जाकर संतों से आशीर्वाद लिया था।

Leave a Reply

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज

Gold & Silver Price