Bharat News Today

गर्म हवाएं और तेज धूप के कारण त्वचा संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है- डॉ श्वेता कुमार (त्वचा रोग विशेषज्ञ)

इटावा (सैफई) 21,मई 2024।आजकल गर्म हवाएं और तेज धूप के कारण त्वचा संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है अक्सर इस मौसम में,यह कहना है आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय सैंफई की त्वचा रोग विभाग की विभागाध्यक्ष व एसोसिएट प्रोफेसर डॉ श्वेता कुमार का। उन्होंने बताया कि गर्मी की वजह से हिट रैशेज हो जाते हैं ऐसा जब होता है जब पसीना शरीर से बाहर नहीं निकल पाता और त्वचा में जमा होता है इसी कारण लाल दाने या पानी वाले दाने हो जाते हैं और खुजली की समस्या होने लगती है और त्वचा में लाल चिकते पड़ जाते हैं।


गर्मी में त्वचा रोग से बचने के लिए अपनाएं ये उपाय


डा. श्वेता कुमार का कहना है कि गर्मी में त्वचा रोग से बचने के लिए जरूरी है कि धूप में बाहर न निकलें, खासकर 11 से दो बजे के बीच का समय ज्यादा नुकसानदेह होता है इसीलिए जब भी धूप में निकले तो सनस्क्रीम का प्रयोग करें। गर्मी में ऐसे कपड़े पहनें जो आपको धूप से बचाएं। लंबी हैट और दुपट्टा आदि जरूर रखें। फंगल इंफेक्शन होने पर डाक्टर से जरूर परामर्श लेकर सुझाए गए ट्रीटमेंट का कोर्स पूरा करें। सूती व ढीले ढाले कपड़े पहने, पानी का सेवन खूब करें और साफ सफाई का ध्यान रखें।

यूपीयूएमएस में त्वचा संबंधी समस्याओं का इलाज संभव



डॉ श्वेता कुमार ने बताया कि सैंफई मेडिकल कॉलेज में हर तरह के त्वचा संबंधी समस्याओं का इलाज संभव है।इस मौसम में अलग-अलग त्वचा रोगों से संबंधित औसतन प्रतिदिन 200- 250 मरीज ओपीडी में आ रहे हैं जिसमें-

फोटोडर्मेटाइटिस -धूप से एलर्जी
मेलास्मा-चेहरे पर काले दाग
मुँहासे,एलोपेसिया एरीटा – छोटे-छोटे टुकड़ों में आपके बाल झड़ने लगते हैं।
एटोपिक जिल्द की सूजन (एक्जिमा) , शुष्क, खुजली वाली त्वचा जिससे सूजन, दरारें या पपड़ीदार त्वचा हो जाती है।
सोरायसिस-पपड़ीदार त्वचा जो सूज सकती है या गर्म महसूस हो सकती है।
रेनॉड – , समय-समय पर आपकी उंगलियों, पैर की उंगलियों या शरीर के अन्य हिस्सों में रक्त का प्रवाह कम हो जाता है, जिससे सुन्नता या त्वचा का रंग बदल जाता है।
रोसैसिया -लाल, मोटी त्वचा और मुंहासे, आमतौर पर चेहरे पर।
त्वचा कैंसर , असामान्य त्वचा कोशिकाओं की अनियंत्रित वृद्धि।
विटिलिगो -त्वचा के धब्बे जो अपना रंग खो देते हैं।
उन्होंने कहा कि इन त्वचा संबंधी समस्याओं से कोई भी व्यक्ति जूझ रहा है तो सोमवार,मंगलवार, गुरुवार,शनिवार को ओपीडी कमरा नंबर 17 में आकर दिखा सकता है।

त्वचा रोग संबंधी जांच व उपचार

उन्होंने बताया कि त्वचा संबंधी उपचार के लिए  अत्य आधुनिक मशीनों द्वारा लेजर तकनीकी से उपचार की सुविधा भी उपलब्ध है व  स्किन बायोप्सी,कुष्ठ रोगियों व अन्य त्वचा रोग की जांच एवं उपचार के साथ गंभीर त्वचा संबंधी रोगियों को भर्ती करने की सुविधा भी है।

Leave a Reply

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज

Gold & Silver Price