Bharat News Today

पत्नी को सरकारी नौकरी करवाई, बदले में मिला धोखा लेखपाल बनते ही पति से किया किनारा

झांसी। बुधवार को झांसी कलेक्ट्रेट में एक अजीबोगरीब घटना सामने आई। नव-नियुक्त लेखपालों को ज्वाइनिंग लेटर बांटे जा रहे थे, इसी दौरान नीरज विश्वकर्मा नाम का एक युवक अपनी पत्नी रिचा सोनी विश्वकर्मा को ढूंढने पहुंच गया। नीरज का दावा है कि 2 साल पहले ही उसकी रिचा से शादी हो गई थी, लेकिन लेखपाल बनते ही रिचा ने उससे किनारा कर लिया।

पत्नी को सरकारी नौकरी करवाई, बदले में मिला धोखा

नीरज का कहना है कि शादी के बाद दोनों एक दूसरे के बिना नहीं रह पाते थे। उसने रिचा को सरकारी नौकरी की तैयारी करवाई और महंगी कोचिंग भी दिलाई। लेकिन लेखपाल बनने के बाद रिचा ने नीरज को धोखा दे दिया और उससे दूरियां बनाने लगी।

जिलाधिकारी से भी नीरज ने की मुलाकात

इसी दौरान नीरज की निगाह झांसी डीएम अविनाश कुमार पर पड़ी तो उसने अपनी पूरी आपबीती उन्हें भी सुनाई। बताते चलें कि नीरज विश्वकर्मा और रिचा सोनी का मामला फैमिली कोर्ट में भी चल रहा है।
क्या है इस अजीबोगरीब घटना की सच्चाई?
यह घटना कई सवाल खड़े करती है। क्या लेखपाल बनने के बाद रिचा के व्यवहार में बदलाव आया? क्या सरकारी नौकरी की चाहत में उसने अपने पति को धोखा दिया? इन सवालों का जवाब अभी नीरज और रिचा ही दे सकते हैं।

Leave a Reply

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज

Gold & Silver Price